Advanced Search
اردو
English
 
   आने वाली घटनाओं
 
 
> Back
सेन्टर का परिचये

परिचय अबुल हसनात इसलामिक रीसर्च सेन्टर

यह वैश्वीकरण (सार्वभौमिकता) का दौर है, आज विश्व एक छोटे गांव कि शिक्ल प्राप्त कर गया है।  इंटरनेट (अन्तरराष्ट्रीय कम्प्यूटर तन्त्र) एक विशाल जाल के प्रकार सारे विश्व को घेरा हुआ है।  पल भर में एक बात सारे विश्व में पहुंचाई जाती है। 

विद्युन्यय साधन के माध्यम जिस प्रकार आम तथा साधारण होते जा रहे हैं इसी प्रकार समाज में अश्लीलता व निर्लज्जता फैलती जा रही है।  इन साधन के ग़लत प्रयोग के कारण युवा पीढी विनाश हो रही है।  इसलाम के विरोधी इन शक्तिशाली माध्यम व साधन के द्वारा इसलाम के चित्र को बिगाड कर पेश कर रहे हैं। 

कभी इसलाम में के संस्कृति पर आक्रमण किए जा रहे हैं तो कभी से इसलाम कि शुद्धता को व्यर्थ किया जा रहा है।  कहीं इसलाम के सिद्धांत पर आक्षेप किया जा रहा है तो कहीं क़ुरानी आयात (पद्य) का विरोध किया जा रहा हैं।  ऐसे अस्थिरमति समय में इसलामी विश्वास के संरक्षण, इसलाम के सिद्धांत तथा अहकाम शरीअ़ कि पासदारी के लिए इसलाम के विश्वास का प्रदर्शन करने और भले कर्म व उच्च शिष्टाचार को आम करने लिए इस बात कि अत्यन्त आवश्यकता थी के इन्हीं माध्यम तथा वस्तुओं का प्रयोग कर के विश्व पर पर सत्य को स्पष्ट किया जाए तथा इसलाम कि सच्ची चित्र को जगत के सामने पेश किया जाए ताके मुसलिम समुदाय सत्य कि सरबुलंदी के लिए तैयार हो जाएं तथा असत्यता से हमेशां के लिए बेज़ार हो जाए। 

इन्हीं लक्ष्य व उद्देश्य के प्रति अबुल हसनात इसलामिक रीसर्च सेन्टर 18 ज़िल हज्जा 1428 हिज्री 29 डिसम्बर, शनिवार के दिन मौलाना मुफती सैयद ज़िया उद्दीन नक्षबंदी खादरी दामत बरकातुहुम शेक़ुल फिखह जामिया निज़ामिया ने स्थापित फरमाया, जिस का रजिस्ट्रेशन नम्बरः 501/2008 है। 

सर्वश्रेष्ट प्रशंसा व गुणगान अल्लाह तआ़ला के लिए!  हज़रत अबुल क़ैर सैयद रहमतुल्लाह शाह नक्षबंदी मुजद्दिदी खादरी रहमतुल्लाहि अलैह जो हज़रत हज़रत मुहद्दिस देक्कन रहमतुल्लाहि अलैह के उत्तराधिकारी हैं रीसर्च सेन्टर को अपने जीवन भर मार्गदर्शित फरमाते रहे।  मुफक्किर इसलाम मौलाना मुफती क़लील अहमद दामत बरकातुबुम आलिया जामिया निज़ामिया उपकुलपति हैं इस के मुख्य सहायक है। 

मंत्रणा- मण्डल मे शामिल हैं-
(1)- मौलाना डाकटर हाफिज़ शैख अहमद मोहिउद्दीन शरफी साहिब संचालक दारुल उ़लूम नोअ़मानिया तथा मुख्य सलाहकार। 

(2)- मौलाना खाज़ी सैयद शाह आ़ज़म अ़ली सूफी खादरी साहिब अध्यक्ष कुल हिन्दुस्तानुल मशाइक़। 

(3)- मौलाना सैयद शाह महमुद पाशा खादरी साहिब, ज़रीन कुलाह, सज्जादह नशीन हज़रत सुलतान उल वाई़ज़ीन ज़रीन कुलाह (रहमतुल्लाहि अलैह)
(4)- मौलाना डाकटर हाफिज़ सैयद शाह बदिअ़उद्दीन साब्री साहिब अध्यक्ष (मण्डल विद्याभ्यास) उसमानिया यूनिवर्सिटी। 

(5)- मौलाना डाकटर मुहम्मद मुसतफा शरीफ नक्षबंदी साहिब मुख्य विभाग- अ़रबिक विभाग, तथा निर्देशक दइ़रतुल माअ़रिफ अल उसमानिया। 

(6)- आदरणीय आ़ली जनाब सैयद अहमद पाशा खादरी साहिब एम.एल.ऐ. चारमीनार चुनाव-क्षेत्र, प्रधान कार्यदर्शी, कूल हिन्द मजलिस इत्तेहादुल मुसलिमीन। 

(7)- मौलाना ख्वाजा मुहम्मद बहाउद्दीन फारुख नक्षबंदी खादरी साहिब। 

(8)- मौलाना शाह मुहम्मद फसीहउद्दीन निज़ामी साहिब अध्यक्ष पुस्तकालयाध्यक्ष,  जामिया निज़ामिया

(9)- मौलाना सैयद शाह ऑलिया हुसैनी मुरतुज़ा पाशाह साहिब (पोते) शेक़ुल इसलाम रहमतुल्लाहि अलैह। 

(10)- मौलाना सैयद शाह इब्राहीम खादरी साहिब ज़रीन कुलाह सज्जादा नशीन, हज़रत खुबूल पाशह ज़रीन कुलाह। 

(11)- मौलाना मुहम्मद हामिद हुसैन हस्सान फारुखी साहिब कामिल जामिया निज़ामिया, निरीक्षक, सुन्नी दावत इसलामी आंध्र प्रदेश। 

(12)- मौलाना सैयद शाह नुर उल सूफी रुही पाशह साहिब मुख्य खाज़ी, सिकंद्राबाद। 

(13)- मौलाना मुहम्मद सुलतान अहमद खादरी साहिब कामिल जामिया निज़ामिया। 

(14)- मौलाना सैयद शाह फैज़उद्दीन खुरैशी खादरी साहिब सलीम पाशह सज्जादा नशीन, बारगाह जमालिया अम्बरपेट, हैद्राबाद। 

(15)- आ़ली जनाब अलहाज मुहम्मद ज़हीरउद्दीन नक्षबंदी खादरी साहिब, मुतवल्ली, मसजिद अबुल हसनात जहानुमा हैद्राबाद। 

(16)- आ़ली जनाब अलहाज ख्वाजा मोअ़नउद्दीन इखबाल खादरी मुलतानी साहिब अध्यक्ष, मीलाद कमेटी हैद्राबाद तथा

(17)- आली जनाब मिरज़ा असलम बेग़ साहिब, शामिल हैं। 

रीसर्च सेन्टर के प्रति इसलामी पुस्तकें प्रकाशन का प्रबंध तथा अन्य विषय पर सी डीज़ जिसकी आज आवश्यकता है उसका सिलसिला जारी है।  विश्वास, जीवनी, धर्मशास्त्र समस्याएं, वर्तमान समस्याएं, शिष्टाचार, नीतिविद्या, साहित्यिक तथा सार्वजनिक भाषण पर पुस्तकें उर्दू व अँग्रेज़ी भाषा में उपलब्ध है, तेलुगू में भी पुस्तकें प्रकाशित हो रही हैं। 

मुफती साहब क़िबला के व्याख्यान व भाषण (लेकचर्स) कि नइ सी डीज़ हर सप्ताह विमोचित होती हैं तथा सी डीज़ और डीवीडी (200) से अधिक उत्तेजक विषय पर सी डीज़ उपलब्ध हैं।  मुफती साहब के साप्ताहिक लेकचर्स वैब साइट पर सीधा प्रसारण किए जा रहे हैं जो सारे विश्व के लिए लाभदायक व हितलाभ का माध्यम है। 

सेन्टर कि ओर से 40 से अधिक स्थान पर निमन्त्रण व दावाह का काम जारी है, इन अधिवेशन में विषय एक विशिष्ट लेकचर के अतिरिक्त क़ुरान करीम का अभ्यास (शासन), सहीह बुखारी का अभ्यास तथा फिख्ह (धर्मशास्त्र) का अभ्यास से सैंकडो सदस्य वह कर रहे हैं। 

आदरणीय हज़रत मुफती साहब के सेन्टर से प्रसिद्ध होने वाले विषय व पुस्तकें, निबन्ध, शासन व फतावा के वीडियो क्लिप्स से हैद्राबाद तथा अतराफ के मुसलमान खूब लाभ उठा कर रहे हैं।  अधिक देश कि अन्य राज्य से भी पुस्तकें तथा वीडियो सीडीज़ कि मांग दिन बदिन बढती जा रही है।  इस के अतिरिक्त, लाखों कि संख्या वह है जो इन्टरनेट पर आनलाइन हैं वह लाभ उठा रही हैं। 

फेसबुक, यूटियुब तथा गुगल वीडियो तथा अन्य वैबसाइट पर समय के अनुसार से उत्तेजिक विषय तथा पुस्तकों के सात भी अपलोड किए जाते हैं।  जिन से देश व प्रदेश कि जनता ग़ैर मामुली संख्या में प्रकोप करते हैं तथा अपने सुझाव व विचार का प्रकट करते हैं। 

सेन्टर कि ओर से हर वर्ष गर्मी के मौसम कि शिक्षा के अवसर पर अल्पावधि (अल्पकालीन) कोर्स का प्रबंध रह करता है। स्पोकन (मौखिक) अ़रबिक क्लास का भी प्रबंध है।  जिस में दैनिक आधार के प्रति धार्मिक छात्र के अलावा स्कूल व कॉलेज के छात्र तथा कर्मचारी व व्यापारिक पेशे के लोग शिक्षा प्राप्त करते हैं। 

मुफती साहब ने वर्तमान काल के आवश्यकता के पेश नज़र रीसर्च सेन्टर ने इसलामी वैबसाइट www.Ziaislamic.com  उर्दू तथा अंग्रेज़ी भाषा में आरम्भ कि है जो नीचे वर्णन महत्व कार्य पर स्थापित हैः-

  1. उच्च अनुसंधान, फतवे जो क़ुरान करीम, हदीस के अनुसार,  अखाइ़द (विश्वास), इ़बादात (आराधना), मामलात (व्यवहार), सामाजिक जीवन तथा शिष्टाचार व सभ्याचार के आधार पर स्थापित है।
  2. अहले बैत व सहाबा के जीवनी, विश्वास तथा शिक्षण। 
  3. धार्मिक (सदाचारी) मानव के जीवनी, विश्वास तथा शिक्षण। 
  4. मानसिक (बुद्धि-विषयक), शोधन, विश्वास से संबंधित उच्च अनुसंधान पुस्तकें। 
  5. इसलामी सिद्धांत पर विचारधारा निबन्ध। 
  6. वर्तमान व उत्तेजिक सुविज्ञ व सुशिक्षित निबन्ध। 
  7. आधुनिक व वैज्ञानिक सम्सया तथा उस पर शरीअ़त का निर्णय। 
  8. मनमोहक व आकर्षक करने वाले श्रव्य व वीडियो भाषण।  

एक विशेष संभाग “मुहद्दिस देक्कन” के नाम से पेज है जिस में हज़रत मुहद्दिस देक्कन रहमतुल्लाहि अलैह कि रचना व शिक्षण उपलब्ध शामिल है। 

एक और संभाग गुलिस्तान हज़रत शेक़ुल इसलाम के नाम से पेज है जिस में हज़रत शेक़ुल इसलाम, निर्माता जामिया निज़ामिया रहमतुल्लाहि अलैह कि रचना तथा विवरण उपलब्ध हैं। 

रमज़ान मास के अवसर पर एक विशेषत पेज रमज़ान इस्पेशल के नाम से प्रसिद्ध किया जाता है जो रमज़ान कि उत्तमता व विशेषता (उत्कृष्टता व प्रतिष्ठा) से संबंधित अहादीस शरीफ, रोज़े के मसाइल, तावीह के मसाइ़ल, ऐअ़तेकाफ के मसाइ़ल, शबे खद्र के विशेषता व मसाइ़ल व अहकाम और दुआ़एं ई़द कि नमाज़ के मसाइ़ल व अहकाम तथा सदक़े फित्र के अहकाम पर निर्धारित होता है। 

हज के अवसर पर हज व उ़मरह तथा ज़ियारत के मसाइ़ल व अहकाम, उत्तमता व शिष्टाचार, फतावा व विषय पर स्थापित एक विशेषत पेज “हज स्पेशल” आरम्भ किया जाता है। 

महिलाओं के लिए मसाइ़ल व अहकाम से अनुभव सुशिक्षित होने तथा इन को धार्मिक ज्ञान के दृष्टिकोण से एक संभाग “वुमेन्स सेकशन” नाम से स्थापित किया गया।  अल्लाह तआ़ला के कर्म से रीसर्च सेन्टर प्रति के प्रबंध नीचे वर्णन विभाग कार्यरत हैं। 

  1. अनुसंधान का विभाग
  2. विकास व शिक्षण का विभाग
  3. इसलामी धर्मशास्त्र का विभाग
  4. भाषांतर का विभाग
  5. दावह का विभाग
  6. प्रकाशित व मुद्रांकन का विभाग

अल्लाह तआ़ला कि कृपा है इस वैबसाइट से उपमहाद्वीप के अतिरिक्त से प्रस्तुत धारा अतिरिक्त सऊदी अरब, U.A.E. कतर, उमान, ईरान, अमरिका, ऑस्ट्रेलिया, स्पेन, ब्राज़ील, थाइलैंङ, न्यूज़ीलैंड, आयरलैंड, नेधेरलैंङ, कनाङा, कुवैत, इटली, बगंलादेश, U.K., उरपह, जापान, स्वीङन, मलेशिया, मॉरिशस, रुस, सीरिया, कोलम्बिया, स्लोवाकिया, डेनमार्क, नार्वे, ग्रीस, इज़राइल, टर्की, मौजम बैकय, बेल्जियम,  सन मराइन, हंगरी और दुनिया के अनेक देशों से रोजाना हजारो व्यक्ति दर्शन कर रहें है।

  वीडियो फतावा
Mail to Us    |    Naqshbandi Calendar    |    Photo Gallery    |    Tell your friends   |    Contact us
Copyright 2008 - Ziaislamic.com All Rights Reserved